Wed. Jun 19th, 2024

हरिद्वार(ब्यूरो,TUN) आज देश में भारतीय संविधान के शिल्पकार भारत रत्न बाबा साहेब डा0 भीमराव अंबेडकर जी का 133वा जन्मदिन बहुत ही धूम धाम से मनाया गया। देश के साथ – साथ उत्तराखंड राज्य के हरिद्वार जिले में भी जगह जगह लोगो के दिलो में बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर जी के लिए सम्मान और प्यार देखने को मिला। शिवालिक नगर हरिद्वार में भीमराव अंबेडकर अनु0 जाति/ अनु0 जनजाति वेलफेयर सोसाइटी के बैनर तले भारतीय संविधान के शिल्पकार भारत रत्न बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेकर जी का 133वा जन्मदिन बहुत ही धूम धाम से मनाया गया। जिसमे मुख्य अतिथि के रूप में डा अशोक जी भूपेंद्र जी, श्रीमती सुशीला जी, श्री शशि राम जी, आए एल व्यास जी, राजेंद्र श्रमिक जी, आर यू प्रसाद जी और लक्ष्मी चंद जी मौजूद रहे। बाबा साहेब भीम राव अम्बेडकर जी के जन्मोत्सव के शुभ अवसर पर मुख्य अतिथि के साथ हरिद्वार की जानी मानी कवित्री के रूप में पहचान बनाने वाली श्रीमती राज कुमारी राजेश्वरी जी ने दीप प्रज्वलित कर कार्यकर्म का शुभारंभ किया गया। उसके उपरांत बाबा साहेब के जन्मदिन के शुभ अवसर बच्चो द्वारा केक भी काटा गया। कवित्री राज कुमारी राजेश्वरी जी के द्वारा सुंदर वंदना की प्रस्तुति भी दी गई। और इसी के साथ साथ छोटे छोटे बच्चो द्वारा सुंदर सुंदर प्रस्तुति देकर वहां पर मौजूद सभी लोगो का मन मोह लिया गया। इस शुभ अवसर पर वहां पर मौजूद सभी अतिथियों द्वारा समाज के लोगो को भारत रत्न बाबा साहेब डा भीमराव अंबेडकर जी के पद चिन्हों पर चलने के लिए प्रेरित किया गया और बाबा साहेब के जीवन के बारे में बताते हुए बताया कि 14 अप्रैल को बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती मनाई जाती है। इस दिन साल 1891 को मध्य प्रदेश के महू के एक गांव में भीमराव अंबेडकर का जन्म हुआ था। बचपन से ही उन्हें आर्थिक और सामाजिक भेदभाव का सामना करना पड़ा। स्कूल में छुआछूत और जाति-पाति का भेदभाव झेलना पड़ा। विषम परिस्थितियों के बाद भी अंबेडकर ने अपनी पढ़ाई पूरी की। ये उनकी काबलियत और मेहनत का ही परिणाम है कि अंबेडकर ने 32 डिग्री हासिल की। विदेश से डॉक्टरेट की डिग्री प्राप्त की। इसके बाद भारत में दलित समाज के उत्थान के लिए काम करना शुरू किया। संविधान सभा के अध्यक्ष बने और आजादी के बाद भारत के संविधान के निर्माण में अभूतपूर्व योगदान दिया। जीवन के हर पड़ाव पर संघर्षों को पार करते हुए उनकी सफलता हर किसी के लिए प्रेरणा है। इन्ही के साथ साथ मुख्य अतिथि के द्वारा यह भी कहा की अगर हमे अपने देश को विकसित राष्ट्र बनाना है तो हम सभी को अपनी सोच को बदलना होगा और एक जुट होकर अपने दिलो दिमाग में आपस में प्रेम भावना को जाग्रत करना होगा और देश में जात – पात की भावना को भुलाकर सभी को एक समान का दर्जा देना होगा और मन में एक समान की भावना रखकर अपने आपको एजुकेटेड बनाना होगा।

इसी के साथ – साथ इस शुभ अवसर पर उन बच्चो को भी पुरस्कृत किया गया जिन्होंने हाई स्कूल में अच्छी परसेंटेज लाकर अपने मां बाप और अपने शहर का नाम रोशन किया है। जिसमे कु माया पुत्री श्री विनय कुमार ने हाई स्कूल में 96.8% और कु वर्णिका पुत्री श्री रविन्द्र कुमार ने 89.6% मार्क्स लाकर अपने माता पिता का नाम रोशन किया।
इन बच्चो के साथ इस शुभ अवसर उन लोगो को भी सम्मानित किया गया जिन्होंने भारत रत्न बाबा अंबेडकर जी की प्रेरणा से प्रेरित होकर अपने जीवन में मेहनत की और अपने आपको एक मुकाम तक पहुंचाया है।

इसी के साथ पावरलिफ्टिंग में इंटरनेशनल विजेता रह चुकी रेनू मेथान निवासी BHEL को भी पुरस्कृत किया गया। जिन्होंने अपनी मेहनत से यह मुकाम हासिल करके भारत देश का नाम तो रोशन किया है और साथ में यह भी साबित कर दिया की देश की बेटिया किसी से कम नहीं है।
जिस बैनर तले इस कार्यक्रम को सफल बनाया गया उसमे अध्यक्ष के रूप में मनपाल सिंह जी, उपाध्यक्ष – ब्रह्मपाल और आर एल सुमन, महासचिव – चंद्रपाल, संप्रेक्षक – पर्शन राम, कोषाध्यक्ष – देवेंद्र कुमार, कार्यालय प्रभारी – सत्य पाल, सदस्य – सत्य पाल सिंह, पी एल कपिल, सहसचिव – पवन कुमार सागर, प्रचार मंत्री – नाथी राम माजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed