Wed. Jun 19th, 2024

हरिद्वार (ब्यूरो,TUN) लोकसभा 2024 चुनाव में चर्चित प्रत्याशी के रूप में उभरने वाली भावना पांडे के अचानक चुनाव मैदान से हट जाने का कारण लगातार लोगों के जहन में आज तक है, जिस तरह से भावना पांडे ने लोकसभा चुनाव की तैयारी हरिद्वार सीट पर की थी इतनी तैयारी अभी तक किसी भी प्रत्याशी ने नहीं की लेकिन अचानक ऐसा क्या हुआ की भावना पांडे चुनाव नहीं लड़ी, आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर भावना पांडे ने बताया कि उन्होंने अपने भाई त्रिवेन्द्र सिंह रावत के कारण चुनाव लड़ने का मन नही बनाया उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा से उनका ज्यादा संबंध नहीं है लेकिन हरिद्वार की जनता से जो प्यार उनको मिला है उसको वह लगातार जारी रहेगा और आने वाले नगर निगम और नगर पालिका चुनाव में अपने प्रत्याशियों को उतार कर एक बार फिर हरिद्वार की जनता के साथ खड़ी होंगी उन्होंने यह भी कहा कि लोगों का जो प्यार जो आभार उनको इस सीट पर मिला है यही कारण है कि आज वह हरिद्वार को छोड़ना नहीं चाहती ।

भावना पांडे ने कहा कि कुछ लोग चुनाव के नतीजे के आने के बाद जुग्गी झोपड़ी के लोगों को उजाड़ने का काम करने की फिराक में है पर मैं उन झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले लोगों के साथ हमेशा खड़ी रहूंगी और उनके इस घर को टूटने नहीं दूंगी अगर किसी ने इनको हाथ भी लगाया तो सबसे पहले उनकी अवैध बिल्डिंग टूटेगी, मैं हमेशा 2021 से नेताओं से सवाल कर रही हूं की अपने झुगी झोपड़ियां बसायी क्यों उनके बाद उनका वोट बनाया,ओर अब क्यों उनका वोट तो नेताओं को वेध लगता है पर उनका घर अवैध लगता है झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले लोग मजदूरी करके अपने इन घरों को सजाते हैं उनको कैसे तोड़ देंगे, मैं नगर निगम के चुनाव से पहले यह ऐलान करती हूं कि मैं सभी झुग्गी झोपड़ी वालों को प्लॉट दूंगी

बाबा रामदेव पर भी बोलते हुए कहा कि बाबा को कई बीघा जमीन लीज पर दे रखी है आज हजारों करोड़ की संपत्ति बाबा रामदेव की है मैं बाबा रामदेव से कहना चाहूंगी वह अपनी संपत्ति गरीब लोगों को दे दें और मदर टेरेसा की तरह काम करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed