Wed. Jun 19th, 2024

हरिद्वार( ब्यूरो,TUN) जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय के सम्मान में आज कलक्ट्रेट सभागार में एक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।
इस कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये जिलाधिकारी ने अधिकारियों, कर्मचारियों, मीडिया तथा जनपद की समस्त जनता द्वारा उन्हें दिये गये सकारात्मक सहयोग के लिये हार्दिक आभार व धन्यवाद ज्ञापित किया।

विनय शंकर पांडे ने कहा

उन्होंने कहा कि मैंने माह अगस्त,2021 को जनपद हरिद्वार का बतौर जिलाधिकारी पदभार ग्रहण किया था। उन्होंने जनपद हरिद्वार का जिक्र करते हुये कहा कि हरिद्वार जनपद की चुनौतियां-चाहे धार्मिक आयोजन हों, विकास हो, हर तरह से अन्य जनपदों से अलग हैं, लेकिन मैंने कभी भी इन चौनौतियों की परवाह किये बगैर निरन्तर कार्य किया। हर अधिकारी/कर्मचारी अपने आप में लीडर होता है, प्रत्येक में लीडरशिप की क्वालिटी होती है, लेकिन जरूरत उसे प्रेरित करने की होती है। जो भी कार्य करें, उसे खुलकर मन लगाकर करें, सफलता अवश्य मिलेगी। मेरे लगभग दो साल के कार्यकाल में उन्हें हमेशा अच्छे अनुभव मिले, जिसका श्रेय अधिकारियों एवं कर्मचारियों को जाता है।

जीवन में संतुलन बनाए रखना बहुत जरूरी है– विनय शंकर पांडे

जिलाधिकारी ने कहा कि जीवन में सन्तुलन बहुत आवश्यक है। इसलिये हर जगह सन्तुलन बनाये रखें तथा आफिस आदि का तनाव घर लेकर कभी भी न जायें। हमेशा खुश रहें।

अपर जिलाधिकारी प्रशासन श्री पीएल शाह ने कहा

 कर्यक्रम को सम्बोधित करते हुये अपर जिलाधिकारी(प्रशासन)श्री पी0एल0 शाह ने कहा कि जिलाधिकारी का एक अभिभावक की तरह हमेशा संरक्षण मिला। उन्होंने कहा कि वे हमेशा यह याद दिलाते रहते थे कि अगर आपकी पहल से प्रतिदिन दो गरीब व्यक्त्यिों की मदद हो जाती है, तो इससे अधिक नेकी का कार्य कुछ भी नहीं है। उन्होंने कावंड़ मेला, जल जीवन मिशन, विधान सभा चुनाव, पंचायत चुनाव आदि का जिक्र करते हुये कहा कि उनका कुशल मार्गदर्शन इनके संचालन में पग-पग पर मिलता रहा। 

परियोजना निदेशक ग्राम विकास अभिकरण श्री विक्रम सिंह ने कहा

परियोजना निदेशक ग्राम्य विकास अभिकरण श्री विक्रम सिंह ने कहा कि मैं लगभग 12 वर्ष से अधिक समय से उनसे जुड़ा हूं। वे प्रशासनिक कुशल अनुभव, निर्णय लेने की अद्भुत क्षमता के साथ-साथ ज्योतिष के भी अच्छे ज्ञाता हैं तथा आशा करते हैं कि भविष्य में भी आवश्यकता पड़ने पर उनका मार्गदर्शन मिलता रहेगा। 


एसडीएम पूरन सिंह राणा ने भी रखी अपनी बात

एसडीएम श्री पूरण सिंह राणा ने समारोह में अपने अनुभव साझा करते हुये कहा कि जिलाधिकारी में नेतृत्व करने की क्षमता एक्ट्राआर्डनरी है। कोविड-19 वैक्सीनेशन का लक्ष्य हो या सौंपे गये अन्य चुनौतीपूर्ण कार्य हों, उनके मार्ग-दर्शन में सफल सम्पादन किया गया। 

सम्मान समारोह में अपने विचार और उपस्थित हुए अधिकारी

सम्मान समारोह में  अपर जिलाधिकारी(वित्त एवं राजस्व)श्री बीर सिंह बुदियाल, सचिव एचआरडीए श्री उत्तम ंिसंह चौहान, सिटी मजिस्ट्रेट सुश्री नूपुर वर्मा, संयुक्त मजिस्ट्रेट भगवानपुर श्री आशीष मिश्रा, एमएनए श्री दयानन्द सरस्वती, विशेष भूमि अध्याप्ति अधिकारी श्री बृजेश तिवारी, मुख्य कोषाधिकारी सुश्री नीतू भण्डारी, सहायक परियोजना निदेशक सुश्री नलिनीत घिल्डियाल, आपदा प्रबन्धन अधिकारी सुश्री मीरा रावत आदि ने भी जिलाधिकारी श्री विनय शंकर पाण्डेय के साथ कार्य करने के अवसर पर हुये अपने-अपने अनुभव साझा किये। 
इस अवसर पर  जिला विकास अधिकारी श्री वेद प्रकाश, डीपीआरओ श्री अतुल प्रताप सिंह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 योगेश शर्मा, मुख्य उद्यान अधिकारी श्री ओम प्रकाश सिंह, ए0आर0 कोआपरेटिव श्री राजेश चौहान, अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी श्री अविनाश भदौरिया, मुख्य कृषि अधिकारी श्री विजय देवराड़ी, जिला आबकारी अधिकारी श्री प्रभाशंकर मिश्रा, जिला पूर्ति अधिकारी श्री मुकेश कुमार, जिला खनन अधिकारी श्री प्रदीप कुमार, जिलाधिकारी के मुख्य वैयक्तिक अधिकारी श्री सुदेश कुमार, वैयक्तिक अधिकारी श्री रामेन्द्र, श्री नारायण तिवारी, श्री नवल किशोर सहित कलक्ट्रेट के समस्त कार्मिक उपस्थित थे। 

…………….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed