Sat. Jun 22nd, 2024

हरिद्वार
पूर्व केंद्रीय गृह राज्य मंत्री स्वामी चिन्मयानंद सरस्वती को अपनी शिष्या से दुष्कर्म के मुकदमे में शाहजहांपुर की एमपी एमएलए कोर्ट ने बरी कर दिया है।

बता दे 13 वर्ष पहले 2011 में शाहजहांपुर के पूर्व केंद्रीय गृह राज्य मंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर उनकी शिष्या साध्वी चिदर्पिता ने दुष्कर्म का आरोप लगाया था। इस मामले में पूर्व केंद्रीय गृह राज्य मंत्री स्वामी चिन्मयानंद को हाई कोर्ट से स्टे मिला हुआ था। पूरा मामला एमपी एमएलए कोर्ट में ट्रायल पर था। 13 साल पुराने इस मामले में अब शाहजहांपुर की एमपी एमएलए कोर्ट ने स्वामी चिन्मयानंद को बरी कर दिया है।

इस मामले में स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ साक्षय के अभाव में उन्हें बरी कर दिया गया है । गौरतलब है कि 2019 में भी स्वामी चिन्मयानंद के लॉ कॉलेज की एक छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed